Share With Friends

अगर आप राजस्थान रीट भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और आपने अगर प्रथम चरण पास कर लिया है तो REET Mains Exam Syllabus Pdf 2022 in Hindi | Level 1 & Level 2 आज कि यह पोस्ट आपके लिए है क्योंकि इसमें हम आपके लिए रीट स्तर 2  अर्थात  रीट मैंस परीक्षा के लिए सिलेबस उपलब्ध करवा रहे हैं जिसके अनुसार आप अपनी तैयारी को निरंतर जारी रख सकते हैं आप एक अच्छा इसको तभी प्राप्त कर पाएंगे जब आप सिलेबस के अनुसार अपनी तैयारी को मजबूत करेंगे

 नीचे हमने Reet paper 2 Syllabus in Hindi विषय अनुसार सिलेबस के संपूर्ण टॉपिक के बारे में बता दिया  है आप नीचे दिए गए सिलेबस  के आधार पर अपनी तैयारी जारी रखें साथ ही अगर आपको अन्य किसी विषय का सिलेबस चाहिए तो नीचे एक पीडीएफ का लिंक दिया गया है REET Mains Exam Syllabus Pdf 2022 in Hindi जिसमें आपको रीट लेवल 1  एवं रीट लेवल 2 के सभी विषयों का पाठ्यक्रम हिंदी एवं अंग्रेजी दोनों भाषा में देखने को मिल जाएगा

REET Mains Exam Syllabus Pdf 2022 in Hindi

Daily Current AffairsClick Here
Weekly Current Affairs QuizClick Here
Monthly Current Affairs ( PDF )Click Here

खंड का शीर्ष  – बाल विकास एवं शिक्षण विधियाँ

  • बाल विकास : वृद्धि एवं विकास की संकल्पना, विकास के विभिन्न आयाम एवं सिद्धान्त, विकास को प्रभावित करने वाले कारक (विशेष रूप से परिवार एवं विद्यालय के संदर्भ में) एवं अधिगम से उनका संबंध ।
  • वंशानुक्रम एवं वातावरण की भूमिका
  • व्यक्तिगत विभिन्नताएँ : अर्थ, प्रकार एवं व्यक्तिगत विभिन्नताओं को प्रभावित करने वाले कारक ।
  • व्यक्तित्व : संकल्पना प्रकार व व्यक्तित्व को प्रभावित करने वाले कारक । व्यक्तित्व का मापन ।
  • बुद्धि : संकल्पना, सिद्धान्त एवं इसका मापन, बहुबुद्धि सिद्धान्त एवं इसके निहितार्थ।
  • विविध अधिगमकर्ताओं की समझ पिछडे, विमंदित, प्रतिभाशाली, सृजनशील, अलाभान्वित – वंचित, विशेष आवश्यकता वाले बच्चे एवं अधिगम अक्षमता युक्त बच्चे ।
  • अधिगम में आने वाली कठिनाइयॉ
  • समायोजन की संकल्पना एवं तरीके, समायोजन में अध्यापक की भूमिका
  • अधिगम का अर्थ एवं संकल्पना अधिगम को प्रभावित करने वाले कारक ।
  • अधिगम के सिद्धान्त ( व्यवहारवाद, गैस्टाल्टवाद, संज्ञानवाद, निर्मितिवाद) एवं इनके निहितार्थ।
  • बच्चे सीखते कैसे है। अधिगम की प्रक्रियाएँ । चिन्तन, कल्पना एवं तर्क (निर्मितिवादी उपागम, आनुभविक अधिगम, संकल्पना मानचित्रण, अन्वेषण एवं समस्या समाधान),
  • अभिप्रेरणा एवं इसके अधिगम के लिए निहितार्थ ।
  • शिक्षण अधिगम की प्रक्रियायें, राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा – 2005 के संदर्भ में शिक्षण अधिगम की व्यूह
    रचना एवं विधियाँ।
  • आकलन, मापन एवं मूल्यांकन का अर्थ एवं उद्देश्य, समग्र एवं सतत् मूल्यांकन, उपलब्धि परीक्षण का निर्माण। सीखने के प्रतिफल
  • क्रियात्मक अनुसन्धान
  • शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 अध्यापकों की भूमिका एवं दायित्व

खंड का शीर्ष  – भाषा 1 हिंदी

एक अपठित गद्यांश में से निम्नलिखित व्याकरण संबंधी प्रश्न :-


शब्द ज्ञान – तत्सम, तद्भव, देशज, विदेशी शब्द पर्यायवाची, विलोम, एकार्थी शब्द, उपसर्ग, प्रत्यय ।
संधि और समास, संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, विशेष्य, अव्यय, वाक्यांश के लिए एक शब्द, शब्द
शुद्धि ।

  • एक अपठित गद्यांश में से निम्नलिखित बिंदुओं पर प्रश्न :-
    रेखांकित शब्दों का अर्थ स्पष्ट करना, वचन, काल, लिंग ज्ञात करना । दिए गए शब्दों का वचन काल और लिंग बदलना, राजस्थानी शब्दों के हिन्दी रूप ।
  • वाक्य रचना, वाक्य के अंग, वाक्य के प्रकार, पदबंध, मुहावरे और लोकोक्तियाँ, विराम चिन्ह ।
  • भाषा की शिक्षण विधि, भाषा शिक्षण के उपागम, भाषा दक्षता का विकास ।
  • भाषायी कौशलों का विकास (सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना) हिंदी भाषा शिक्षण में चुनौतियाँ, शिक्षण अधिगम सामग्री, पाठ्य पुस्तक, बहु – माध्यम एवं शिक्षण के अन्य संसाधन ।
  • भाषा शिक्षण में मूल्यांकन, उपलब्धि परीक्षण का निर्माण समग्र एवं सतत् मूल्यांकन, उपचारात्मक शिक्षण ।

Note – बहु विकल्प प्रश्नों का मापदण्ड कक्षा 6 से 8 तक के राज्य सरकार द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम सत्र 2021-22 पाठ्य पुस्तकों एवं पाठ्य वस्तु के आधार पर होगा, लेकिन कठिनाई का स्तर सीनियर सैकण्डरी (कक्षा 12) तक की पाठ्य पुस्तकों का होगा।

खंड का शीर्ष  – भाषा 1 हिंदी

● एक अपठित गद्यांश आधारित निम्नलिखित व्याकरण संबंधी प्रश्न :-

वर्ण विचार, वर्ण विश्लेषण, शब्द ज्ञान
उपसर्ग, प्रत्यय ।
तत्सम, तद्भव, देशज, विदेशी शब्द, युग्म शब्द,
संधि, समास, शब्दों को शब्द – कोश क्रम में लिखना, शब्दों के मानक रूप लिखना, संज्ञा,
सर्वनाम, विशेषण, क्रिया विशेषण, क्रिया, लिंग, वचन, काल ।


● एक अपठित पद्यांश पर आधारित निम्नलिखित बिंदुओं पर प्रश्न :-
भाव सौंदर्य
विचार सौंदर्य
नाद सौंदर्य
शिल्प सौंदर्य
जीवन दृष्टि

  • वाक्य रचना, वाक्य के अंग, वाक्य के भेद, पदबंध, मुहावरे, लोकोक्तियाँ ।
    कारक चिह्न, अव्यय, विराम चिह्न, राजस्थानी मुहावरों का अर्थ व प्रयोग |
  • भाषा शिक्षण विधि, भाषा शिक्षण के उपागम, भाषायी दक्षता का विकास ।
  • भाषायी कौशलों का विकास ( सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना) शिक्षण अधिगम
    सामग्री – पाठ्य पुस्तक, बहु – माध्यम एवं शिक्षण के अन्य संसाधन ।
  • भाषा शिक्षण में मूल्यांकन, (सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना) उपलब्धि परीक्षण का निर्माण, समग्र एवं सतत्
    मूल्यांकन, उपचारात्मक शिक्षण ।
    NOTE – बहु विकल्प प्रश्नों का मापदण्ड कक्षा 6 से 8 तक के राज्य सरकार द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम सत्र
    2021 – 22 पाठ्य पुस्तकों एवं पाठ्य वस्तु के आधार पर होगा, लेकिन कठिनाई का स्तर सीनियर
    सैकण्डरी (कक्षा 12) तक की पाठ्य पुस्तकों का होगा।

खंड का शीर्ष  – गणित और विज्ञान

  • घातांक समान आधार की घातीय संख्याओं का गुणा तथा भाग, घातांक नियम ।
  • बीजीय व्यंजक : बीजीय व्यंजकों का योग, व्यवकलन, गुणा एवं भाग, सर्वसमिकाएं।
  • गुणनखण्ड: सरल बीजीय व्यंजकों के गुणनखण्ड ।
  • समीकरण: सरल एकघातीय समीकरण ।
  • वर्ग और वर्गमूल
  • घन और घनमूल
  • ब्याज : सरल ब्याज, चक्रवृद्धि ब्याज, लाभ-हानि, अनुपात एवं समानुपात: समानुपाती भागों में विभाजन, भिन्न | प्रतिशतता, जन्म व मृत्यु दर, जनसंख्या वृद्धि, हास।
  • रेखा तथा कोण, रेखा खण्ड, सरल एवं वक्र रेखाएं, कोणों के प्रकार, ।
    समतलीय आकृतियाँ : त्रिभुज त्रिभुजों की सर्वांगसमता, चतुर्भुज तथा वृत्त, बहुभुज
    समतलीय आकृतियों का क्षेत्रफल एवं परिमाप : त्रिभुज, आयत, समान्तर चतुर्भुज एवं समलम्ब चतुर्भुज ।
    पृष्ठीय क्षेत्रफल तथा आयतनः घन, घनाभ एवं लम्बवृत्तीय बेलन |
  • सांख्यिकी आंकड़ों का संग्रह एवं वर्गीकरण, बारम्बारता बंटन सारिणी, मिलान चिह्न, स्तम्भ (बार) लेखाचित्र
    एवं आयत लेखाचित्र, वृत्तीय ग्राफ (पाई चित्र) ।
    लेखाचित्र (ग्राफ): विभिन्न प्रकार के लेखाचित्र ।
    प्रायिकता
  • गणित की प्रकृति एवं तर्क शक्ति
    पाठयक्रम में गणित की महत्ता
    गणित की भाषा
    सामुदायिक गणित
  • मूल्यांकन
    उपचारात्मक शिक्षण
    शिक्षण की समस्यायें

विज्ञान

  • सजीव एवं निर्जीव – परिचय, अन्तर एवं लक्षण
  • सूक्ष्म जीवः – जीवाणु, वायरस, कवक; (लाभकारी एवं अलाभकारी)
  • सजीव – पौधे के प्रकार एवं विभिन्न भाग, पादपों में पोषण, श्वसन एवं उत्सर्जन, पादप और जंतु कोशिकाओं की
    संरचना और कार्य कोशिका विभाजन
  • मानव शरीर एवं स्वास्थ्य – सूक्ष्म जीवों से फैलने वाले रोग ( क्षय रोग, खसरा, डिप्थीरिया, हैजा, टाइफाइड),
  • रोगों से बचाव के उपाय; मानव शरीर के विभिन्न तंत्र; संक्रामक रोग ( फैलने के कारण और बचाव ); भोजन के स्त्रोत, भोजन
    के प्रमुख अवयव और इनकी कमी से होने वाले रोग, संतुलित भोजन।
  • जन्तु प्रजनन एवं किशोरावस्था – जनन की विधियाँ लैंगिक एवं अलैंगिक, किशोरावस्था एवं यौवनारम्भ : शारीरिक परिवर्तन, जनन में हार्मोन्स की भूमिका, जननात्मक स्वास्थ्य
  • यांत्रिकी – बल एवं गति, बलों के प्रकार (पेशीय बल, घर्षण बल, गुरुत्व बल, चुम्बकीय बल, स्थिर वैद्युत बल, आदि),
    गति के प्रकार (रखीय वृत्ताकार कम्पन, आवर्त एवं घूर्णन गति), दाब, वायुमण्डलीय दाब, उत्प्लावन बल, कार्य एवं ऊर्जा, ऊर्जा के परम्परागत तथा वैकल्पिक स्रोत, ऊर्जा संरक्षण ।
  • ताप एवं ऊष्मा- ताप एवं ऊष्मा का अभिप्राय, तापमापी, ऊष्मा संचरण ।
  • प्रकाश एवं ध्वनि – प्रकाश के स्रोत, प्रकाश का परावर्तन, गोलीय दर्पण, समतल दर्पण व गोलीय दर्पण से प्रतिबिम्ब बनना, प्रकाश का अपवर्तन, लैंस एवं लैंस से प्रतिबिम्ब का निर्माण, ध्वनि, ध्वनि के अभिलक्षण, ध्वनि संचरण, ध्वनि प्रदूषण
  • विद्युत एवं चुंबकत्व – विद्युत धारा, विद्युत परिपथ, विद्युत धारा के ऊष्मीय, चुंबकीय एवं रासायनिक प्रभाव, चुंबक एवं चुंबकत्व ।
  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी – दैनिक जीवन में विज्ञान का महत्व, संश्लेषिक रेशे तथा प्लास्टिक संश्लेषिक रेशों के गुणधर्म एवं प्रकार, प्लास्टिक एवं इसके गुणधर्म, प्लास्टिक एवं पर्यावरण, डिटर्जेंट, सीमेंट आदि, चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी (एक्स किरण, सी.टी. स्कैन, शल्य चिकित्सा, अल्ट्रासाउण्ड तथा लेजर किरणें), दूरसंचार के क्षेत्र में फैक्स मशीन, कम्प्यूटर, इन्टरनेट, ई-मेल तथा वेबसाइट की सामान्य जानकारी ।
  • सौर मण्डल– चन्द्रमा एवं तारे, सौर परिवार – सूर्य एवं ग्रह, धूमकेतु, तारामण्डल ।
  • पदार्थ की संरचना – परमाणु एवं अणु, परमाणु की संरचना; तत्व, यौगिक और मिश्रण; मिश्रण के अवयवों का पृथक्करण; तत्वों के प्रतीक, यौगिकों के रासायनिक सूत्र तथा रासायनिक समीकरण, भौतिक एवं रासायनिक परिवर्तन ।
  • रासायनिक पदार्थ – ऑक्साइड्स, हरित गृह प्रभाव और वैश्विक तापन, हाइड्रोकार्बन (सामान्य जानकारी), अम्ल, क्षार और लवण, ऑक्सीजन गैस, नाइट्रोजन गैस, नाइट्रोजन चक्र, कोयला, पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस ।
  • कृषि प्रबंधन : कृषि पद्धतियाँ, फसलों के प्रकार व उदाहरण
  • विज्ञान की संरचना एवं प्रकृति
    प्राकृतिक विज्ञान : लक्ष्य एवं उद्देश्य प्राकृतिक संसाधन, पर्यावरण प्रदूषण व नियन्त्रण, जैव विविधता,अनुकूलन, कचर
    प्रबंधन
    जैव विकास
    विज्ञान को समझना
    विज्ञान की शिक्षण विधियाँ
  • नवाचार
    पाठय सामग्री / सहायक सामग्री मूल्यांकन
    समस्याऐं, उपचारात्मक शिक्षण

NOTE – बहु विकल्प प्रश्नों का मापदण्ड कक्षा 6 से 8 तक के राज्य सरकार द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम की वर्तमान में प्रचलित सत्र 2021 – 22 पाठ्य पुस्तकों के आधार पर होगा, लेकिन कठिनाई का स्तर सीनियर सैकण्डरी (कक्षा 12 ) तक की पाठ्य पुस्तकों का होगा ।

Download Complete Syllabus Pdf For REET Mains Exam

इस पीडीएफ को डाउनलोड करने के लिए नीचे Download Pdf लिखा हुआ दिख रहा होगा अगर उसके स्थान पर टाइमर चल रहा है तो कृपया इसे पूरा होने दे समय पूरा होने के पश्चात आपको इसी स्थान पर डाउनलोड करने के लिए बटन दिख जाएगा जिस पर क्लिक कर आप इस PDF को निशुल्क डाउनलोड कर पाएंगे   

Please Wait……

A Click & Download Pdf

यह भी पढ़े

UPSC STUDY MATERIALCLICK HERE
GENERAL SCIENCE NOTESCLICK HERE
NCERT E-BOOK/PDFCLICK HERE
YOJNA MONTHLY MAGAZINECLICK HERE

अंतिम शब्द :

आपको हमारी REET Mains Exam Syllabus Pdf 2022 in Hindi | Level 1 & Level 2 यह पोस्ट अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के  साथ जरूर शेयर करें एवं अगर आप किसी भी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और निशुल्क क्लास नोट्स अथवा हस्तलिखित नोट्स या महत्वपूर्ण प्रश्नों के साथ अपनी तैयारी को मजबूत करना चाहते हैं तो यह वेबसाइट आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगी  यहां पर आपको सभी विषयों के नोट्स एवं प्रैक्टिस सेट,वन लाइनर एवं ऑब्जेक्टिव प्रश्न,  पिछली परीक्षाओं के प्रश्न पत्र और भी बहुत कुछ निशुल्क मिलेगा  

अगर आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ना चाहते हैं ( REET Mains Exam Syllabus Pdf 2022 in Hindi ) तो नीचे क्लिक हेयर पर क्लिक करके आप सीधे टेलीग्राम के माध्यम से हम से जुड़ सकते हैं