Share With Friends

अगर आप गूगल पर Indian Geography Class Notes in Hindi | भारत का भूगोल शार्ट नोट्स सर्च कर रहे है तो हम आपको इस पोस्ट में भूगोल से संबंधित बेस्ट नोट्स उपलब्ध करवाने वाले है जो आपकी तैयारी को और मजबूत करेंगे यह नोट्स experience Teachers द्वारा बनाये गए है जिन्हे सालो का अनुभव है अगर आप किसी भी परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो आपको इन्हे जरूर पढ़ना है 

Indian Geography Class Notes in Hindi | UPSC. UPPSC, STATE EXAMS, SSC, RAILWAY के लिए आप भारत का भूगोल से संबंधित शार्ट नोट्स पढ़ सकते है पार्ट 1 आपको उपलब्ध करवा दिया गया है इस से आगे कंटिन्यू पढ़ने के लिए पार्ट 2 को जरूर पढ़े

Indian Geography Class Notes in Hindi |भारत का भूगोल सामान्य ज्ञान ( Part 1 )

भारत का नामकरण

  • भारतवर्ष का नामकरण के विषय में ऐसा कहा जाता है कि दुष्यंत के पुत्र भरत के नाम पर इस देश का नाम भारत पड़ा।
  • कुछ विद्वानों का मत है कि ऋषभदेव के ज्येष्ठ पुत्र का नाम भरत था और उन्हीं के नाम पर इस देश का नाम भारतवर्ष पड़ा है।
  • प्राचीन साहित्य में भारतवर्ष को भारत भूमि की संज्ञा दी गई है।
  • भारत को चतु:संस्थान संस्थितम् कहा गया है।
  • हिन्दू शब्द भी महान सिंधु नदी से निकला है, सिंधु प्रदेश प्राचीनतम सभ्यता का विकास स्थल रह चुका है।
  • भारतीय संस्कृति के प्राचीन ग्रंथ विष्णु पुराण के अनुसार

उत्तरं यत् समुद्रस्य हिमाद्रेश्चैय, दक्षिणम्।
वर्ष तत् भारत नामभारती यत्र सन्ततिः।।

  • अर्थात् – उत्तर में हिमालय से लेकर दक्षिण में सेतु बन्ध (वर्तमान में हिन्द महासागर) तक फैला हुआ। जो भूभाग है उसे भारत या भारतवर्ष कहते हैं।
  • भारत के राष्ट्रगान में भारत की सीमा क्षेत्र का परिचय दिया गया है।

‘पंजाब-सिंध गुजरात मराठा द्रविड
उत्कल बंगा विंध्यन हिमाचल यमुना गंगा ‘

  • भारत – यह नाम आर्योँ के द्वारा दिया गया क्योंकि सबसे पहले मध्य एशिया से आकर आर्यों की एक शाखा-भरत शाखा ने अनार्यों पर अपना प्रभुत्व स्थापित किया और इसी शाखा के नाम पर इस देश का नाम भारत वर्ष या भारत पड़ा।
  • हिन्दुस्तान – यह नाम ईरानियों के द्वारा दिया गया। क्योंकि प्राचीन भारत और फारस (ईरान) इन दोनों देशों के बीच हिन्दूकुश पर्वतमाला सीमा विभाजन का कार्य करती थी अर्थात् हिन्दूकुश पर्वतमाला से प्राचीन भारत (वर्तमान में पाकिस्तान) की सीमा प्रारम्भ होती थी इसलिए इस देश को हिन्दुस्तान कहा जाता है।
  • इण्डिया (India) – यह नाम यूनानियों के द्वारा दिया गया। क्योंकि यूनानी (ग्रीक) सिन्धु नदी को Indus कहते थे और जिस देश में Indus नदी बहती थी। उस देश को India कहा।
  • भारतीय संविधान में भारत के लिए “India that is Bharat” नाम प्रयुक्त हुआ है।

भारत एक सामान्य परिचय

  • आकृति और विस्तार – भारत की आकृति पूर्णतः त्रिभुजाकार न होकर चतुष्कोणीय है। भूगोलवेत्ता स्ट्रेबो ने भारत की आकृति पतंग जैसी बताई है।
  • अक्षांशीय स्थिति – भारत 8o4′ उत्तरी अक्षांश से 37o6′ उत्तरी अक्षांश।
  • 23o उत्तरी अंक्षाश (कर्क रेखा) इस देश के लगभग बीच से गुजरती हुई इसे लगभग समान भागों में बाँटती है।
  • देशान्तरीय स्थिति – 68o7′ पूर्वी देशान्तर से 97o25′ पूर्वी देशान्तर तक फैला हुआ है। इस प्रकार इसका अक्षांशीय विस्तार 37o6′ – 8o4′ = 29o2′ तथा देशान्तरीय विस्तार 97o25′ – 68o7′ = 29o18′ है।
  • भारत का उत्तरी-दक्षिणी विस्तार लगभग 30o अंक्षाश है।
  • भारत का पूर्वी-पश्चिमी विस्तार भी लगभग 30o देशांतर है।
  • भारत विषुवत् रेखा के उत्तर में पूरा का पूरा भारत उत्तरी गोलार्द्ध में स्थित है।
  • भारत के पूर्वी बिन्दु किबूथ (अरुणाचल प्रदेश) तथा पश्चिम बिन्दु गोहर माता (गुजरात) के मध्य सूर्योदय में अंतर कैसे ज्ञात करेंगे।
  • सर्वप्रथम कुल देशांतर विस्तार ज्ञात करेंगे। फिर देशांतर अंतर को 4 से गुणा करेंगे तो सूर्योदय में समय का कुल अंतर ज्ञात होगा।

क्योंकि अरुणाचल प्रदेश गुजरात के पूर्व में है, इसलिए वहाँ 1 घंटा 57 मिनट 1 सैकण्ड पहले सूर्योदय होगा। अरुणाचल प्रदेश को सूर्योदय का राज्य कहा जाता है।

  • उत्तरी बिन्दु – ‘इन्दिरा कोल’ (Indira Col) जिला गिलगित (J & K) वर्तमान में पाक अधिकृत कश्मीर (POK) में है।
  • दक्षिणी बिन्दु – भारत की मुख्य भूमि से दूर अंडमान तथा निकोबार द्वीप समूह में ‘इन्दिरा पाइंट’ (Indira Point) 6o45′ उत्तरी अक्षांश पर ग्रेट निकोबार में स्थित है। इन्दिरा  पाइंट को ‘पिगमेलियन पाइंट’ ‘पारसन पाइंट’ तथा ‘ला हि चिंग पाइंट’ भी कहा जाता है।
  • पश्चिमी बिन्दु – गोहर मोती (गौर माता), जिला-कच्छ (गुजरात)।
  • पूर्वी बिन्दु – किब्यतू बलांगू (अरूणाचल प्रदेश)
  • मुख्य भूमि का दक्षिणतम बिन्दु – कन्याकुमारी या केप केमोरिन
  • पश्चिम से पूर्व की चौड़ाई – 2933 कि.मी. तथा कश्मीर से कन्याकुमारी तक उत्तर-दक्षिण दिशा में इसकी लम्बाई 3214 किमी. है।
  • भारत Indian Standard Time (IST) – 8212o पूर्वी देशान्तर रेखा को माना गया है। यह इलाहाबाद के पास नैनी से गुजरती है।
  • 8212o पूर्वी देशांतर रेखा पाँच राज्यों से गुजरती है – उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, आंध्र प्रदेश राज्यों से गुजरती है।
  • 8212पूर्वी देशांतर रेखा का समय ग्रीन विच रेखा से 5 घण्टे 30 मिनट आगे रहता है।
  • अरुणाचल प्रदेश तथा गुजरात के बीच स्थानीय समय का अन्तर 30×4 min. =120 min. मिनट अर्थात् दो घण्टे है।
  • कर्क रेखा (उत्तरी अक्षांश) भारत के बीचों-बीच में 8 राज्यों में से होकर गुजरती है।
  • वे आठ राज्य- 1. गुजरात 2. राजस्थान 3. मध्यप्रदेश 4. छत्तीसगढ़ 5. झारखण्ड 6. पश्चिम बंगाल 7. त्रिपुरा 8. मिजोरम।
  • कर्क रेखा की सबसे अधिक लंबाई – मध्यप्रदेश
  • कर्क रेखा की सबसे कम लंबाई – राजस्थान
  • कर्क रेखा के नजदीकी शहर – गाँधीनगर, उज्जैन, रांची, भोपाल, अगरतला
  • क्षेत्रफल – भारत का कुल क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किमी. है, जो विश्व के कुल भौगोलिक क्षेत्रफल का लगभग 2.4 प्रतिशत है।
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का विश्व में सातवां स्थान है।

1. रूस
2. कनाड़ा
3. चीन
4. U.S.A.
5. ब्राजील
6. ऑस्ट्रेलिया
7. भारत
8. अर्जेंटीना

विश्व के सबसे छोटे देश
1. वेटिकन सिटी (इटली) 0.44 km2
2. मोनको
3. नौरू – प्रशान्त महासागर
4. तुबालु – प्रशान्त महासागर

भारत के जिले (लगभग 640)
सबसे बड़ा जिला   सबसे छोटा जिला

1. कच्छ                1. माहे (केरल)

2. लेह

3. जैसलमेर

4. बाड़मेर         

  • स्थलीय सीमा – भारत की स्थलीय सीमा की लम्बाई 15,200 किमी. है।
  • तटीय सीमा – मुख्य भूमि की तटीय सीमा की लम्बाई 6,100 किमी. है। यदि अंडमान-निकोबार तथा लक्षद्वीप समूहों की तट रेखा को भी सम्मिलित किया जाए तो भारत की तटीय सीमा 7516.6 किमी. है।
  • भारत की कुल (स्थलीय जलीय) सीमा 22716.6 किमी. है।
  • अण्डमान -निकोबार द्वीप समूह का तट सबसे लंबा 1962 किमी. है, जिसके बाद गुजरात 1600 किमी. व आंध्रप्रदेश 970 किमी. है।
  • भारत के 16 राज्य तथा 2 केन्द्र शासित प्रदेश अंतर्राष्ट्रीय सीमा तथा 9 राज्य समुद्रीय सीमा बनाते हैं।
राज्यसमुद्री सीमा
1. गुजरातपश्चिमी तट
2. महाराष्ट्रपश्चिमी तट
3. गोवापश्चिमी तट
4. कनार्टकपश्चिमी तट
5. केरलपश्चिमी तट  
6. तमिलनाडुपूर्वी तट  
7. आंध्र प्रदेशपूर्वी तट
8. ओडिशापूर्वी तट
9. पश्चिम बंगालपूर्वी तट
  • 2 राज्य – गुजरात तथा पश्चिम बंगाल स्थलीय सीमा के साथ-साथ समुद्रीय सीमा भी बनाते हैं।
  • 5 राज्य – न तो स्थलीय /अंतर्राष्ट्रीय और न ही समुद्रीय सीमा बनाते हैं।

1. हरियाणा, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, तेलंगाना

  • सबसे लंबी अंतर्राष्ट्रीय सीमा – राजस्थान
  • सबसे छोटी अंतर्राष्ट्रीय सीमा – नागालैंड
  • सबसे लंबी समुद्रीय सीमा

1. गुजरात               

2. आंध्र प्रदेश

3. तमिलनाडु

क्षेत्रफल के आधार पर
सबसे बड़े राज्य
Trick राजनीति में महान UP
सबसे छोटे राज्य
GST  नाग
1. राजस्थान1. गोवा
2. मध्यप्रदेश2. सिक्किम
3. महाराष्ट्र3. त्रिपुरा
4. उत्तर प्रदेश4. नागालैंड

अंतर्राष्ट्रीय सीमा – Continue Part 2…….

Last 6 month current affairs 2021-22 pdf in hindi | Current half yearly

Environment ClassNotes pdf for upsc | पर्यावरण क्लास नोट्स

General knowledge book for upsc | Drishti ias gk pdf download in hindi

अंतिम शब्द –

Indian Geography Class Notes in Hindi उम्मीद करते है हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध करवाए जा रहे नोट्स आपको आगामी परीक्षाओं में काम आएंगे इस वेबसाइट पर उपलब्ध सभी नोट्स/पीडीऍफ़ बिल्कुल फ्री आप डाउनलोड कर सकते है 

जिसमे Daily current affairs pdf in hindi , Monthly yojna & kurukshetra magazine pdf , Upsc study material, Monthly current affairs pdf, science notes pdf in hindi, Etc.